वृश्चिक मासिक राशिफल - मई का वृश्चिक राशिफल

मई, 2021

वृश्चिक का सामान्य

पारिवारिक सुख में भारी कमी महसूस करेंगे। जीवन-साथी से बहुत अधिक मतभेद हो सकता है अतः प्रयास करें कि तनाव की वजह आप ना बने। जीवन साथी के स्वास्थ्य की भी समस्या उठ सकती है। यात्रायें कष्टकारी होंगी अतः जबतक अति अनिवार्य ना हो यात्रा ना करें। धन की कमी महसूस होगी। आप भाग्य से अधिक कर्म पर भरोसा करें अर्थात जुआ-सट्टा या किसी भी ऐसे कार्य में निवेश ना करें जहाँ कर्म तो बिलकुल ना करना हो और आप पूरी तरह से अपने भाग्य पर ही निर्भर करते हों। सर दर्द, पेट और कफ़ की समस्या से बहुत परेशान हो सकते हैं। वैसे भाई-बहनो और करीबी मित्रों का सहयोग मिलेगा। वैसे विपरीत परिस्थितियों में भी आपका धैर्य आपके साथ बना रहेगा और कर्मठता और पराक्रम बढ़ेगा।

वृश्चिक का आर्थिक जीवन

धन कि समस्या बढ़ सकती है इस माह, विशेष कर स्वास्थ्य या विवाद को लेकर खर्च हो सकता है। भाग्य बहुत पक्ष में नहीं है अभी और उतार-चढ़ाव की संभावना भी बहुत अधिक रहेगी जिसके कारण आपको अचानक और अप्रत्याशित धन प्राप्ति की सम्भावना तथा उसी प्रकार हानि की संभावना भी बन रही है। अतः रोजमर्रा के कार्यों को ही सही समय पर पूरा करने का प्रयास करें। नए आर्थिक निर्णय या व्यापार में विस्तार के लिए समय मध्यम है अतः कोई बड़ा फैसला ना लें।

वृश्चिक का स्वास्थ्य जीवन

घर के किसी महिला सदस्य के स्वास्थ्य की समस्या उत्पन्न हो सकती है विशेष कर अपनी माँ के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। साथ ही यदि आप भी रक्त चाप या एलर्जी की समस्या से परेशान हैं तो अत्यधिक सावधानी बरतें। जन्नेद्रियों से सम्बंधित कोई रोग परेशान कर सकता है साथ ही सर दर्द, पेट और कफ़ की समस्या भी हो सकती है।

वृश्चिक का पारिवारिक जीवन

यह माह पारिवारिक और व्यक्तिगत सुख के लिए बेहतर नहीं है, साथ ही अपने प्रेम संबंधों को लेकर सावधान रहें। उच्च अधिकारीयों से या समाज के उच्च व्यक्तियों के संपर्क में आएंगे। हालांकि इस माह में आपके अपने कार्य शैली में कुछ परिवर्तन रहेगा जिसके कारण आपके कार्य प्रभावित होंगे। पारिवारिक सुख में कमी महसूस करेंगे, कार्य स्थल पर भी कुछ सुस्ती महसूस करेंगे जिसके परिणाम स्वरूप आपकी उत्पादकता घटेगी। निर्णय लेने की क्षमता कमज़ोर रहेगी अतः कोई बड़ा निर्णय ना लें। शिक्षा-प्रतियोगिता में सफलता के लिए प्रयास अधिक करने पड़ेंगे। घरेलु इलेक्ट्रॉनिक उपकरण परेशान कर सकते हैं।

वृश्चिक का सावधानी एवं उपचार

नियम-संयम और धैर्य यह किसी भी परिस्थिति में सबसे बड़ा उपचार होते हैं। रूद्र गायत्री का जप करें।