कुम्भ मासिक राशिफल - अक्टूबर का कुम्भ राशिफल

अक्टूबर, 2021

कुम्भ का सामान्य

संतान पक्ष से सुखद समाचार मिलने के आसार हैं। यदि स्वयं किसी प्रतियोगिता में शामिल हो रहें हैं तो अच्छा समय है, सफलता मिलने के अच्छे संकेत हैं। जीवन साथी से सहयोग तथा लाभ की सम्भावना बन रही है फिर भी कुछ मामलों में विवाद उत्पन्न हो सकता है। भाई-बहनों का भरपूर सहयोग मिलेगा। अपने घर-परिवार के लोग तथा रिश्तेदार आपके कार्य तथा व्यवहार से प्रसन्न भी होंगे और साथ भी देंगे। यात्रायें लाभकारी होंगी और अपने से उच्चस्थ लोगों से थोड़ा मतभेद के साथ समर्थन मिलेगा। आर्थिक स्थिति अच्छी बनेगी। स्वास्थ्य के मामले में ज़रा भी लापरवाही महंगी साबित होगी अतः सावधानी अपेक्षित है।

कुम्भ का आर्थिक जीवन

आय के स्रोत एक से अधिक होंगे जिसे आप अपने सामर्थ्य, परिश्रम और बुद्धि के बल पर प्राप्त करेंगे। परन्तु सब कुछ बेहतर रहते हुए भी आपको एक सलाह है कि अत्यधिक और जल्दी धन कमाने की चाह में कोई गलत कदम ना उठाने की सलाह दी जाती है। नौकरी में पदोन्नति और नयी नौकरी की तलाश करने वालों को सफलता का योग है।

कुम्भ का स्वास्थ्य जीवन

स्वास्थ्य के मामले में वैसे तो समय सामान्य है परन्तु यदि कोई समस्या उत्पन्न हो गयी तो वह बड़ा आकार ले लेगी, अतः स्वास्थ्य के मामले में जरा भी लापरवाही ना बरतें।

कुम्भ का पारिवारिक जीवन

पारिवारिक सुख में वृद्धि होगी। लम्बे समय से घर के सुख सुविधाओं के लिए जो खरीददारी आप नहीं कर पा रहे थे उसके लिए अब सही समय है और अब आप सक्षम भी होंगे। मनोबल सही और सार्थकता लिए हुए बढ़ा रहेगा। जीवन साथी के साथ संबंधों में सुधार आएगा और एक दूसरे के सलाह के साथ किये गए कार्यों से लाभ होगा। प्रेम करने वालों के लिए भी समय अनुकूल है, प्रेम सम्बन्धी नए प्रस्ताव देने या मिलने की बहुत सम्भावना रहेगी। वाक्पटुता चरम पर रहेगी, अपनी बात को लोगो के सामने बहुत अच्छे से रखने में समर्थ होंगे तथा उन्हें अपनी बात से सहमत भी करा लेंगे। नयी नौकरी के लिए साक्षात्कार तथा प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए बेहतर समय है। कार्यों के अपने पक्ष में होने से व्यक्तिगत संतुष्टि का अनुभव होगा। यात्रा से लाभ का योग बन रहा है। रुके हुए कार्यों के होने से और पारिवारिक माहौल बेहतर होने से आपके मन में प्रसन्नता और उत्साह का संचार होगा। ननिहाल पक्ष और ससुराल से सहयोग मिलने की संभावना बन रही है। ज़मीन-जायदाद समबन्धी कार्य यदि लम्बे समय से रुके हुए थे तो उसमे अब थोड़ी तेजी आएगी, साथ ही यदि भूमि के खरीद-फ़रोख्त के कार्यों से जुड़े हुए हैं तो उसमे लाभ भी होगा।

कुम्भ का सावधानी एवं उपचार

मसूर और चने की दाल का दान हनुमान मंदिर पर करें और घर से निकलने से पहले सफ़ेद फूलों के इत्र का इस्तेमाल करें। ठंडी और मीठी वस्तुओं के सेवन से परहेज करें।